ANTARDHWANI

ANTARDHWANI

मन की आवाज़ 

Recent Posts

Saturday, 21 May 2022

हाथों

23:53:00 0
हाथों    में   तेरा    हाथ   लिए पावन    अग्नि   के  फेरे  लिए कसमें   खाईं  संकल्प    किया हर सुख दुख तुमसे जोड़ लिया बचपन गुड़िया अरु सखियों...
Read More

Wednesday, 16 March 2022

शुभकामनाएँ

22:29:00 0
काम, क्रोध, मद,लोभ को, नष्ट करे यह आग । दहन करो  सब होलिका, दुर्व्यसनों को त्याग ।। होलिका दहन की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएँ 🙏 मालती मिश्...
Read More

Tuesday, 26 October 2021

पहली गुरु

23:27:00 10
 पहली गुरु जेल की छोटी सी कोठरी में फर्श पर घुटनों में मुँह छिपाए बैठा था ऋषि। उसके साथ ही दो और कैदी थे जो आपस में ही कुछ बतिया रहे थे और ब...
Read More

Thursday, 9 September 2021

सिनेमा का समाज को योगदान

04:29:00 0
 सिनेमा का हमारे देश को योगदान एक समय था जब शिक्षा को मानवीय विकास का आधार माना जाता था, लोग धार्मिक पुस्तकें पढ़ते थे, वेद और पुराण पढ़ते थ...
Read More

Monday, 22 February 2021

समीक्षा- 'वो खाली बेंच'

23:12:00 0
कहानी संग्रह   *वो खाली बेंच* लेखिका- मालती मिश्रा  समीक्षा- रतनलाल मेनारिया 'नीर' मालती मिश्रा जी की कहानी संग्रह की चर्चा करने से ...
Read More

Wednesday, 13 January 2021

मैं.. सिर्फ मैं हूँ

22:39:00 0
मैं आज की नारी हूँ सक्षम और सशक्त हूँ, शिक्षित और जागृत हूँ संकल्पशील आवृत्ति हूँ। नारी की सीमाओं से मान और मर्यादाओं से, पूर्ण रूर्पेण परिच...
Read More

Tuesday, 29 December 2020

स्मृतियाँ

19:58:00 8
स्मृतियों का खजाना,  सदा मेरे पास होता है। घूम आती हूँ उन गलियों में,  जब भी मन उदास होता है। माँ की वो पुरानी साड़ी का पल्लू, जब मेरे हाथ हो...
Read More