Search This Blog

Saturday, 6 June 2015

भारतीय किसान.."बेचारा"

                     भारतीय किसान

देशभक्तों की पहचान बन गया जिसका नारा
आज वही भारत गौरव कहलाता है...'बेचारा'

हल, फावड़ा, खुरपी, हंसिया जिसके हैं औजार
समाज के चंद ठेकेदारों ने किया उसका ही शिकार

खून-पसीने से सींच-सीच खेतों में अन्न उगाता है
दुनिया का पेट भरने वाला खुद भूखा सो जाता है

सैनिक देश का रक्षक है गर तो किसान बना है पोषक
अपने स्वार्थ की रोटी सेकने को आगे आते शोषक

जय-जवान, जय-किसान बन गया जिस देश का नारा
आज उसी देश का किसान कहा जाता है...'बेचारा'

मेहनतकश धरती-पुत्र किसान, धरती माँ जिसका स्वाभिमान
कर्तव्यों से बँध कर भी अधिकारों की नही पहचान

जो देता रहा औरों को सहारा
आज वही धरणी-सुत किसान कहलाता है...'बेचारा'

उसकी मेहनत, उसकी हिम्मत ही है उसका सम्मान
बंगला, गाड़ी, हीरे, मोती का उसको नहीं अरमान

छत टपकती कच्चे घर की फिरभी दुआ माँगता बारिश की
वो चढ़ गया बलि महत्वाकांक्षा की,
 न सुनी किसी ने उसकी पुकार

बन गया चंद जयचंदों की स्वार्थ की मछली का चारा
आज वही हिन्द का गौरव किसान बन गया देखो...'बेचारा'

झूठे सपने दिखा-दिखा कर किया दिग्भ्रमित कर्तव्यों से
सत्ता के अंधे युग-पुरुष ने छोड़ा न कोई और चारा

वो भारत-गौरव 'भारतीय किसान' बनता जा रहा...'बेचारा'
बनता जा रहा...बेचारा.....
Malti Mishra


11 comments:

  1. भारतीय किसान सदैव से समाज का एक अभिन्न और महत्वपूर्ण अंग रहा है किन्तु आजकल राजनीति के कारण उसकी स्थिति दयनाय होती जा रही है, मेरी ये किसान की इसी दशा को दर्शाती हैं...

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  3. धन्यवाद राकेश कौशिक जी

    ReplyDelete
  4. आपकी इस रचना की जितनी तारीफ की जाए कम है। पूरी तरह सार्थक रचना।

    ReplyDelete
  5. हौसला आफ़जाई के लिए धन्यवाद Jamshed Azmi ji

    ReplyDelete
  6. किसानों की दशा को दर्शाती सार्थक रचना।

    ReplyDelete
  7. किसानों की दशा को दर्शाती सार्थक रचना।

    ReplyDelete
  8. धन्यवाद राजेश जी,आपकी टिप्पणी मेरे लिए अनमोल है

    ReplyDelete
  9. धन्यवाद राजेश जी,आपकी टिप्पणी मेरे लिए अनमोल है

    ReplyDelete
  10. Looking to publish Online Books, in Ebook and paperback version, publish book with best
    Get 20% on Paperback package

    ReplyDelete